Posts

Showing posts from January, 2011

101 सबसे उपयोगी वेबसाइट - 2

जैसाकीआनेमेरीपिछ्लीपोस्टमेपढ़ामेउसीकड़ीकोजारीरखतेहुए ,कुछऔरमहत्वपूर्णवेबसाईटकेबारेमेलिखरहाहूँ।
जिन्होंनेमेरीपिछ्लीपोस्टनहींपढ़ीहै ,वोउसकोयहाँपढ़े101 सबसे उपयोगी वेबसाइट - 1

26.sizeasy.com–किसीभीउत्पादकेआकरकीकल्पनाऔरतुलना.
27.whatfontis.com– imageसेfontकानामपताकरे
28.fontsquirrel.com–निजीऔरवाणिज्यिकइस्तेमालकेलिएमुक्त- fontकाएकअच्छासंग्रह.
29.regex.info–तस्वीरमेछिपाhidden dataकोदेखिये
30.tineye.com– GoogleGooglesकाऑनलाइनसंस्करण
31.iwantmyname.com–सभीTLDsमेआपकाsearch domainsखोजनेमेमददकरताहै.
32.tabbloid.com–आपकामनपसंदब्लॉगएकPDFsकीतरह.
33.join.me–अपनीस्क्रीनकिसीऔरसेशेयरकीजिये.
34.onlineocr.net–PDFs स्कैनयातस्वीरोंसे" text "पहचानिए.
35.flightstats.com-अपनी flightकाstatusदेखिये.
36.wetransfer.com–बड़ीफाइलकोऑनलाइनशेयर करनेकेलिए.
37.pastebin.com–आपके textऔर code snippetsकेलिए एक अस्थायी ऑनलाइन क्लिपबोर्ड.
38.polishmywriting.com–अपनीअग्रेजीसुधारनेकेलिए.
39.awesomehighlighter.com– एक वेब पेज केकुछमहत्वपूर्णहिस्सोंकोआसानीसेउजागरकरे.
40.typewith.me–कईलोगोंकेसाथ एक ही दस्तावेजपरएकसाथकामकरे.
41.whichd…

101 सबसे उपयोगी वेबसाइट - 1

Google,Facebook,Wikipediaयहऐसेनामहै,जिनसेहमभलीभाँतीपरिचितहै।इसलिएमैअपनीलिस्टमे ऐसेनामकोशामिलकररहाहूँजोकीगुमनामहै,लेकिनबहुतउपयोगीहै।
इन्टरनेटकाअधिक उपयोगकरनेवालोकेलिए यह webpages BOOKMARKकरनेलायकहै.
लेखो की प्रथम कड़ी के रूप मे 25 websites के बारे मे लिख रहा हूँ.

01.screenr.com–अपनेडेस्कटॉपकीरिकोर्डिंगकोसीधेऔरयूट्यूबभेजनेकेलिए
02.bounceapp.com–वेबपृष्ठोंकीपूरीलंबाईकेस्क्रीनशॉटलेनेकेलिए.
03.goo.gl–लंबीयू.आर.एलकोछोटीयू.आर.एल.मेंपरिवर्तितकरनेकेलिए
04.untiny.me–जानिएछोटीयू.आर.एलकेपीछेकौनसीयू.आर.एल.छुपीहै
05.localti.me–अपनेशहरकेबारेमेजानिए
06.copypastecharacter.com–कॉपीकीजियेस्पेशलcharactersजोआपकेkeyboardपरनहींहै.
07.topsy.com– twitterकेलिएबेहतरसर्चइंजन.
08.fb.me/AppStore–सर्चiOS appबिनाiTunesके.
09.iconfinder.com–सभीसाइज़केiconsखोजे.
10.office.com–अपनेOffice documentsकेलिएTemplates, clipartऔरimagesडाउनलोडकरे.
11.woorank.com–एकवेबसाइटकेबारेमेसभीकुछजोआपकोजाननेकीजरूरतहै.
12.virustotal.com–किसीभीफाइलकोvirusके

नया शब्द - भौकाल

अब से कुछ समय पहले की बात है । हॉस्टल मे मेरे लिए कुछ नया सा माहौल था । हमारे साथ बहुत से उत्तर भारतीय रहते थे , जो अपने साथ नयी भाषा को खिच लाये थे ।उन्ही से हमने कुछ शब्द सीखे जो मेरे लिए नए है ।
उन्ही मे एक नया शब्द है -भौकाल

ऐसा व्यक्ति जो ऊँची ऊँची बाते करे ,जिसका वास्तविकता से कोई लेनादेना नहीं हो ।
"जब से मंत्री से मिल कर आया है ,राजू भी भौकाल बन गया है ."

स्वयं के बारे मे शेखी बघारने वाला ।
"आ गए भौकाली बाबू अब इनकी भी सुनो"

ब्लोगरो मे भी भौकाल शब्द कई जगह प्रचलन मे है ।
जैसे राजू बिंदास की पोस्टभौकालीब्लॉगर
निर्मल-आनन्द की पोस्ट कुलीनता का भौकाल
आजकल की पोस्ट भौकाल की इलाहाबादी दुनिया और सपनों का सच

अब आप ही बताइये कैसी लगी आपको हमारी भौकाली ??

प्याज की गणित

भूमिका
प्याज की कीमत समाचारों मे है।प्याज की कीमत कई मायनो मे महत्वपूर्ण है.प्याज को आम आदमी से सीधा जोड़कर देखा जा सकता है.इतिहास गवाह है ,की प्याज ने सरकारों को गिरा दिया है।

आज प्याज की कीमत 70 - 80 चल रही है ,जो की सामान्य मूल्य से 800% तक अधिक है.यह अचानक से नहीं हुआ है.इसके पीछे वायदा कारोबार भी एक बड़ा कारण है .

क्याहैयहवायदाकारोबार
वायदा कारोबार शेयर बाज़ार की तरह है.यहाँ प्याज(तथा अन्य उत्पाद जैसे दाल ....) की कीमत पर सट्टा लगाया जाता है, और मुनाफे और हर सट्टे पर सरकार को भी फीस भी मिलाती है।
बाजार मे प्याज की भविष्य की कीमतों का अंदाजा लगाया जाता है .जैसी अगर बारिश कम हुई इसलिए उत्पादन कम होगा और भविष्य मे कीमत बढ़ेगी ।

वायदाकारोबारकानुकसान
देखने मे तो सब सही लगता है ,लेकिन ऐसा नहीं है । वायदा कारोबार वाणिज्य का एक जटिल विषय है .
कोई भी निवेशक अगर पैसा लगाता है, तो केवल मुनाफे के लिए !
कई बार भण्डारण करके या अन्य बहुत तरीको से कीमतों को बढाया जाता है, ताकि इस से मुनाफा हो सके ।
इसका एक उदाहरण चीनी की कीमते भी है ।

वायदाऔरसरकार
कालाबाजारी और कीमतों के साथ खेल पहले भी गैर क़ानूनी रूप से…