भ्रष्ठ = सत्ता

भ्रष्टाचार का मुद्दा हारे देश के लिए कोई नया नहीं है .लेकिन क्योकि सत्ताधारी पार्टी की जो आजकल जो बैठक चल रही है ,उस मे यह उठना लाजमी है ,लेकिन आश्चर्यजनक रूप से किसी ने कुछ नहीं कहा।पार्टी अध्यक्ष बोली सबका नम्बर आएगा ,मतलब प्रधानमंत्री तो राहुल बनेगा ,लेकिन भ्रष्टचार का मौका सबको मिलेगा.सत्ताधारी पार्टी का ऐसा अधिवेशन होना शर्मनाक है
कोई भी पार्टी पाक साफ़ नहीं है.कर्णाटक इस का ताजा उदहारण है । अगर आप के पास सत्ता है तो ये आप को भ्रष्ठ बना देगी ।
फिर भी हम उम्मीद लगाये बैठे है शायद बदलाव आये.

Comments

Popular posts from this blog

नया शब्द - भौकाल

101 सबसे उपयोगी वेबसाइट - 1

101 सबसे उपयोगी वेबसाइट - 3 (आखिरी कड़ी )